एक सप्ताह में खोले जायें छात्रावास अन्यथा होगा आंदोलन : संजय

0
104

छात्रावास खुलवाने छात्रों-छात्राओं ने मुख्यमंत्री को दिया ज्ञापन

पन्ना – {sarokaar news} समय से बंद पड़े छात्रावासों को खुलवाने के लिये आज आक्रोशित छात्रों ने पन्ना कलेक्ट्रेट पहुंचकर मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए मांग की है कि विगत 22 मार्च से लगातार छात्रावास बंद हैं इससे छात्र छात्राओं की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। कोरोना महामारी को देखते हुए छात्रावासों को बंद किया गया था लेकिन अब सभीसरकारी कार्यालय और संस्थान खुल गए हैं किन्तु छात्रावासों को अभी तक नहीं खोला गया है जिससे छात्र छात्राओं में आक्रोश पनप रहा है

ज्ञापन में उल्लेख है कि अगर एक सप्ताह के भीतर जिले के समस्त छात्रावासों को नहीं खोला गया तो समस्त छात्र छात्रायें मिलकर उग्र आंदोलन का रास्ता अपनाएंगे तथा इसकी पूरी जवाबदारी जिला प्रशासन की होगी। बताते चलें कि कोरोना महामारी को देखते हुए पूरे देश में लॉकडाउन की स्थिति बन गई थी और सभी संस्थानों सहित स्कूल कॉलेजों को बंद कर दिया गया था। 22 मार्च 2020 को जिले के समस्त छात्रावास भी बंद हो गये। जिले के सभी संस्थान पुनः शुरू हो गए और चलने लगे लेकिन छात्रावासों को अभी तक नहीं खोला गया जिससे छात्र छात्राओं को बहुत परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

आक्रोशित छात्र छात्रायों ने आज युवा छात्र नेता संजय अहिरवार के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट पहुंचकर मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपते हुए मांग की है कि अगर एक सप्ताह में छात्रावासों को पुनः शुरू नहीं किया गया तो उग्र आंदोलन किया जायेगा और इसकी पूरी जिम्मेदारिजिला प्रशासन की होगी। ज्ञापाम सौंपने वालों में मुख्य रूप से युवा छात्र नेत संजय अहिरवार पुष्पेंद्र अहिरवार राजकुमार वर्मा दिलीप अहिरवार अभिषेक वर्मा सुनैना कोरी केश कली चरण चौधरी मुन्नी अहिरवार शांति आदिवासी पूजा यादव मोहित स्वतंत्र अध्यक्ष मनोज प्रमोद जगजीवन सचिन अजय आशीष मोहित अंत्य वीरेंद्र अत्यंत राहुल राजेंद्र आशीष भूपेंद्र रितिक ब्रजकिशोर सत्येंद्र राकेश जीतेंद्र लवकेश अनुराग एवं सैकड़ों की संख्या में छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।