किसानों द्वारा रुकवाया गया जे के सीमेंट प्लांट का कार्य

0
98

ग्रामीणों का सीमेंट प्रबंधन पर गंभीर आरोप, प्रबंधन के खिलाफ किसानों ने सौंपा ज्ञापन

पन्ना – {sarokaar news} अमानगंज तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत देवरा में जेके सीमेंट प्लांट प्रारंभ हो रहा है तथा स्थानीय लोग सीमेंट प्लांट का लगातार विरोध कर रहे हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि सीमेंट प्लांट के लिये हम लोगों ने अपनी जमीनें इसलिए दीं थी कि क्षेत्र का विकास होगा ग्रामवासियों को रोज़गार मिलेगा लेकिन जेके सीमेंट प्रबंधन द्वारा बाहरी लोगों को रोज़गार दिया जा रहा है इससे ग्रामीणों में आक्रोश है।

ग्राम पंचायत पगरा के ग्रामीणों ने जेके सीमेंट प्लांट के अधिकारी एपी सिंह और थाना प्रभारी राकेश सिंह को ज्ञापन दिया और प्लांट में चल रही मशीनरी को यह कहते हुए रोक दिया कि जब तक किसानों की समस्यायों को जेके सीमेंट प्रबंधन द्वारा हल नहीं किया जाता है तब तक कार्य प्रारम्भ नहीं होना चाहिये। ज्ञापन में आरोप लगाया गया है कि जेके सीमेंट प्रबंधन द्वारा झूठे वादे और प्रलोभन देकर किसानों की जमीनों को सस्ते दामों में खरीदा गया था तथा किसानों को रोज़गार देने का वादा गया था किंतु प्लांट का कार्य शुरू कर दिया गया है और स्थानीय किसानों को काम न देकर बाहरी लोगों से कार्य कराया जा रहा है इससे क्षेत्र का किसान अपने आपको ठगा महसूस कर रहा है।

किसानों का कहना है कि उनके साथ जेके सीमेंट प्लांट के अधिकारी एपी सिंह द्वारा लगातार गुमराह किया जा रहा है जब हमारी जमीने चाहिए थी तब कुछ और कहा था अब जमीने लेने के बाद उनके सुर बदल गए हैं और जेके सीमेंट प्रबंधन द्वारा हम किसानों की कोई सुनवाई नहीं की जा रही है। जब जब किसानों द्वारा प्रबंधन समक्ष अपनी बात रखी जाती है तो पुलिस के साथ मिलकर हमारी आवाज़ को दबाने का प्रयास किया जाता है। क्षेत्रीय किसानों का कहना है कि जेके सीमेंट प्रबंधन द्वारा अपने वादे अनुसार हम लोगों को काम न देकर बाहरी लोगों से कार्य कराया जायेगा तो हम लोग उग्र धरना प्रदर्शन कर इसका विरोध करेंगे।

ज्ञापन में उल्लेख है कि वर्तमान जेके सीमेंट प्रबंधन के अधिकारी एपी सिंह द्वारा किसानो के साथ धोखाघड़ी भी की गई है जिसका प्रत्यक्ष प्रमाण हरदुआ ग्राम निवासी किसान कल्याण सिंह तथा राजीव सिंह के फर्जी हस्ताक्षर करके सहमति पत्र लगाये गये है । जबकि उनकी जमीन का मामला न्यायलय मे विचाराधीन है। ज्ञापन देने वालो मे स्वामी आदीवासी,अनरत सिंह, सुरजीत सिंह, वीरेंद्र,पुष्पेंद्र,राजकुमार, तिलक लोधी, रामायण सिंह, अजय सिंह,पुरषोत्तम , उमेर, भूरे, अनिल किशोर सहित बड़ी संख्या में ग्राम पगरा,पुरैना,हरदुआ,सप्तई,देवरा, जूडी सहित आसपास के ग्रामों के किसान शामिल रहे।