पन्ना – {sarokaar news} – ओबीसी महासभा द्वारा घोषित मध्य प्रदेश बंद का पन्ना जिले में मिला जुला असर रहा ओबीसी महासभा जिलाध्यक्ष त्रिलोक सिंह यादव के नेतृत्व में समस्त पन्ना पवई अजयगढ़ शाहनगर अमानगंज तहसीलों से सैकडो की संख्या में ओबीसी एससी एसटी के लोग जिला कलेक्ट्रेट पहुंचे। जहां देश के महामहिम राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा ज्ञापन के माध्यम से सरकार को आगाह किया गया कि ओबीसी के आरक्षण के साथ खिलवाड़ न करें वर्तमान भाजपा सरकार ने पहले आरक्षण शुन्य किया उसके बाद उच्चतम न्यायालय द्वारा 14 प्रतिशत कर दिया गया जो की पिछडा वर्ग के साथ धोखा है,हमारी पिछडा वर्ग के आबादी मध्य प्रदेश में 52 प्रतिशत है तो पिछडा वर्ग को निकाय चुनाव पंचायत चुनाव और नौकरियों में 52 प्रतिशत आरक्षण दिया जाए।

जिला अध्यक्ष श्री यादव ने कहा कि आरक्षण भीख नहीं है हमारा हक है 14 प्रतिशत आरक्षण मिलने पर भाजपा तथा इनकी सरकार द्वारा जश्न मनाया जा रहा है। जो उचित नही है पिछडा वर्ग के साथ कुठारघात होने के बावजूद ढोल पीटना कहा तक उचित है। इससे साबित होता है कि मध्य प्रदेश मे भाजपा की सरकार पिछडो को सिर्फ गुमराह करके वोट लेने का माध्यम मान चुकी है। उक्त आरक्षण रैली को आम आदमी पार्टी के द्वारा भी समर्थन प्रदेश अध्यक्ष पंकज सिंह के द्वारा दिया गया है। जिसका समर्थन पन्ना जिला ईकाई आम आदमी द्वारा करते हुए ओबीसी महासभा रैली मे शामिल हो कर अपनी सहभागिता भी निभाई है। कार्यक्रम रैली महेंद्र भवन से होते हुए गांधी चौक, पुलिस कोतवाली गणेश मार्केट बड़ा बाजार होते हुए कलेक्ट्रेट परिसर में ज्ञापन के साथ संपन्न हुई ज्ञापन के दौरान किसान नेता सेवालाल पटेल, नत्थू पटेल, संभागीय अध्यक्ष ओबीसी डा. जयपाल लोधी, आम आदमी पार्टी जिला अध्यक्ष अंजली यादव, राजबहादुर पटेल, हनुमत पटेल, एडवोकेट यशपाल पटेल, ध्रुव लोधी, दयाशंकर लोधी, युवा मोर्चा अध्यक्ष ओबीसी रामभगत कुशवाहा सहित सैकड़ों लोग रहे।