इंडियन रिपोर्टर्स एसोसिएशन संघ ने झोला छाप डॉक्टरों के खिलाफ खोला मोर्चा   

झारखण्ड – जहांगीर आलम {sarokaar news} खुलेआम फर्जी डिग्री से डॉक्टर बनकर लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे नीम-हकीमों के खिलाफ इंडियन रिपोर्टर्स एसोसिएशन ने कार्यवाही शुरू की मांग औषधि नियंत्रण विभाग झारखण्ड सरकार से मांग की है। धनबाद शहर में जगह-जगह तथा ग्रामीण इलाके में नीम-हकीमों की ओर से लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड़ किया जा रहा था। क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन की अनदेखी के चलते झोलाछाप डॉक्टरों की दुकान धड़ल्ले से चल रही है वहीं दर्जनों की संख्या में लैब भी संचालित हो रहे हैं जो गलत जानकारी देकर लोगों की जान से खिलवाड़ कर रहे हैं। सब कुछ क्षेत्र के प्रमुख मार्गो,चौक चौराहों में हो रहा है। हैरत वाली बात तो यह है कि इसके बावजूद भी इन पर कोई कार्यवाही नही की जा रही। क्षेत्र के अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी किसी से छिपी नही है। इसका फायदा ये झोलाछाप डॉक्टर उठाते हैं जो फर्जी डिग्री लेकर बड़े बड़े बोर्ड लगाकर अपनी दुकानें संचालित कर रहे हैं। साल दो साल में एक बार प्रशासन की नींद खुलती है और वे जांच अभियान चलाकर क्या करते हैं आज तक किसी को कुछ समझ में नही आया है। क्योंकि बीते वर्षो में एक भी झोलाछाप डॉक्टर की दुकान बंद नही हो पाई है। वहीं दर्जनों की संख्या में फर्जी तरीके से लैब का संचालन किया जा रहा है जहां मरीजों से मनमानी फीस वसूली जा रही है।
इसका कोई मूल्य निर्धारण नही है। वहीं फर्जी लैब का संचालन किसकी सह पर हो रहा है समझ से परे है। जनापेक्षा है कि प्रशासन इस संबंध में उचित कार्यवाही करेगा जिससे आमजनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने वालों को उचित दंड मिल सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here